महाकौशल में गरीबों की लाचारी का फायदा उठा कर मिशनरी करा रहे धर्म परिवर्तन

विश्व संवाद केंद्र, भोपाल    21-Jul-2021
Total Views |


 

aaaa_1  H x W:  

 

मध्यप्रदेश के महाकौशल  इलाके में इन दिनों नागरिकों की परेशानियों का फायदा उठाकर विधर्मी यों के द्वारा बड़ी संख्या में मतांतरण कराया जा रहा है . महाकौशल के वनवासी बहुल क्षेत्रों को टारगेट करके गरीबी और लाचारी का फायदा उठाने का प्रयास ईसाई मिशनरियों के द्वारा किया गया क्षेत्र से ऐसे ताजा 3 मामले सामने आए हैं .
 

बेटी को स्वस्थ करने का दिया लालच

पहला मामला सिवनी के पांडिया छपारा गांव का है जहां पर पीड़िता पुर्वर्ता बाई की बेटी कई दिनों से बीमार थी ईसाई धर्म के प्रचारकों को जब इस बात की जानकारी लगी तो वह पीड़िता के घर पहुंचे और बेटी को स्वस्थ करने का आश्वासन दिया. उनसे देवी देवताओं का पूजा पाठ बंद करने तथा मांग के सिंदूर मिटाने के लिए कहा जब पुर्वर्ता बाई उनकी बातों का विरोध किया तो प्रचारकों ने उसे प्रलोभन दिया इस मामले में स्थानीय पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है .

धर्म परिवर्तन न करने पर जान से मारने की धमकी मिली

दूसरा मामला क्षेत्र के शहडोल से सामने आया है जहां एक ऑटो चालक जय सिंह तोमर की गरीबी का फायदा उठाकर चार प्रचारक एक माह से ऊपर से लगातार उस पर धर्मांतरण करने के लिए दबाव बना रहे थे . प्रचारकों ने उसे 5000 रुपय भी दिए 18 जुलाई को एक बार फिर चारों व्यक्ति उसके घर पहुंचे और पुनः मतांतरण का दबाव बनाने लगे . जय के द्वारा जब धर्मान्तरण से मना किया तो प्रचारकों के द्वारा उसे जान से मारने की धमकी भी दी गई . इस बात की शिकायत जब पीड़ित के द्वारा पुलिस से की तो पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जब की एक आरोपी अब भी फरार बताया जा रहा है .

इसी प्रकार का एक केस बालाघाट के बघोली गाँव से सामने आया जहाँ एक शिक्षक समेत 4 लोगो के खिलाफ पुलिस ने जनवरी में मामला दर्ज किया था इस मामले में भी पैसों का लालच और मौत का भय दिखा कर धर्मान्तरण के लिए दबाव बनाया गया था.